Sunday , January 20 2019
Breaking News
Home / Home 1 / एकदिनी श्रृंखला में भी विजय अभियान जारी रखना चाहेगी भारतीय टीम

एकदिनी श्रृंखला में भी विजय अभियान जारी रखना चाहेगी भारतीय टीम

सिडनी, 11 जनवरी (हि.स.)। ऑस्ट्रेलिया में चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला 2-1 से जीतकर 71 साल के इतिहास को बदलने के बाद आत्मविश्वास से भरी भारतीय क्रिकेट टीम शनिवार से आस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू हो रही तीन मैचों की एकदिनी श्रृंखला में भी अपना विजय अभियान जारी रखना चाहेगी। एकदिनी मैचों की श्रृंखला का पहला मैच 12 जनवरी को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर खेला जाएगा।

टेस्ट श्रृंखला की तरह ही एकदिनी श्रृंखला में भी भारतीय गेंदबाज एक बार फिर बड़ी भूमिका में होंगे| उन्हीं के कंधों पर टीम को जीत दिलाने की जिम्मेदारी होगी। तेज गेंदबाजी में टीम की जिम्मेदारी मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, खलील अहमद और हार्दिक पांड्या पर होगी। जसप्रीत बुमराह को टीम प्रबंधन ने वनडे सीरीज में आराम देने का फैसला किया और उनके स्थान पर युवा मोहम्मद सिराज को आस्ट्रेलिया भेजा है।

टेस्ट में शानदार प्रदर्शन करने वाले जसप्रीत बुमराह एकदिनी श्रृंखला में नहीं खेलेंगे| इसलिए शमी और भुवनेश्वर के कंधों पर भार बढ़ गया है। शमी ने टेस्ट में बुमराह के बाद सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। स्पिन गेंदबाजी की जिम्मेदारी एक बार फिर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल पर होगी। इन दोनों ने बीते एक साल में हर जगह टीम को सफलता दिलाई है। दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में एकदिनी श्रृंखला में इन दोनों ने शानदार प्रदर्शन किया था।

बल्लेबाजी की बात की जाए तो कप्तान विराट कोहली और उप-कप्तान रोहित शर्मा को बड़ी जिम्मेदारी निभानी है। अंबाती रायडू ने हाल ही में जो प्रदर्शन किया है उससे भारत की नंबर-4 की चिंता को लगभग खत्म कर दिया है। यह श्रृंखला विश्व कप से पहले रायडू के लिए नंबर-4 पर अपने दावे को और पुख्ता करने वाली साबित होगी। निचले क्रम में केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी और हार्दिक पांड्या टीम के लिए अहम योगदान देंगे।

आस्ट्रेलियाई टीम की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया ने एकदिनी श्रृंखला के लिए जो टीम चुनी है उसमें टेस्ट टीम के सात सदस्य ही हैं जिनमें से छह ने ही टेस्ट में मैदान पर कदम रखा था। टीम की कमान मौजूदा समय में आस्ट्रेलिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज एरॉन फिंच के हाथों में है। फिंच का बल्ला लाल गेंद पर अपने प्रहार दिखाने में बेशक नाकाम रहा हो लेकिन सफेद गेंद पर उनके बल्ले का जोर अगर चल गया तो भारत के लिए परेशानी खड़ी होना निश्चित है।

एकदिनी में फिंच के अलावा ग्लैन मैक्सेवल, मिशेल मार्श, एलेक्स कारे पर मेजबान टीम का भार होगा। भारत के मजबूत गेंदबाजी क्रम के इन सभी के लिए समस्याएं बड़ी हैं और इससे पार पाना आस्ट्रेलिया के लिए सिरदर्दी होगी।

गेंदबाजी की बात की जाए तो आस्ट्रेलिया ने मिशेल स्टार्क, जोश हेजलवुड और पेट कमिंस, तीनों को इस श्रृंखला में आराम दिया है। ऐसे में लंबे अंतराल बाद वापसी कर रहे पीटर सिडल के पास विश्व कप के लिए टीम में अपनी जगह पक्की करने का यह अच्छा मौका है। सिडल के अलावा मिशेल मार्श, स्टानलेक, जेसन बेहेनडोर्फ को मजबूत भरातीय बल्लेबाजी क्रम को रोकने की चुनौती उठानी पड़ेगी। इस श्रृंखला का दूसरा मैच 15 जनवरी को एडिलेड में और तीसरा 18 जनवरी को मेलबर्न में खेला जाएगा।

About khabarworld

Check Also

अन्ना ने लगाया केन्द्र पर वादा खिलाफी का आरोप, 30 जनवरी से करेंगे अनशन

Share this on WhatsAppनई दिल्ली (हि.स.)। समाजसेवी अन्ना हजारे ने केन्द्र सरकार पर वादाखिलाफी का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *