Saturday , December 15 2018
Breaking News
Home / Home 1 / पीएम मोदी का राहुल पर तंज, कहा- जो मूंग और मसूर में फर्क नहीं समझते वे सिखा रहे किसानी

पीएम मोदी का राहुल पर तंज, कहा- जो मूंग और मसूर में फर्क नहीं समझते वे सिखा रहे किसानी

नागौर, 28 नवम्बर (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राजस्थान के नागौर में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि जिन्हें मूंग व मसूर में फर्क नहीं पता वे देश को किसानी सिखा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजस्थान विधानसभा का चुनाव नामदार और कामदार के बीच की लड़ाई है।
भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि नागौर शौर्य और श्रम की धरती है। यहां की पहचान कामदार लोगों से है। इसलिए यहां कामदार और नामदार के बीच लड़ाई है।
नागौर के लोगों को अपने से भावनात्मक रूप से जोड़ते हुए मोदी ने कहा, ‘आप लोग जिस तरह जिंदगी गुजारते हैं वहीं जिंदगी मैंने भी गुजारी है। न आप सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए हैं, न मैं सोने का चम्मच लेकर पैदा हुआ हूं।’ राहुल गांधी का बगैर नाम लिए उन्होंने आगे कहा कि लड़ाई में एक नामदार भी हैं, जिन्हें यह नहीं पता कि चने का पौधा होता है कि पेड़। इसके अलावा उन्हें मूंग व मसूर में फर्क नहीं पता, लेकिन वे लोगों को किसानी सिखाते घूम रहे हैं।
राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को अलवर से अपनी चुनावी सभा का आगाज किया था। सोमवार को भी उन्होंने राज्य में तीन सभाएं की थीं। आज नागौर के अलावा भरतपुर में भी उनकी चुनावी सभा है। राज्य में सात दिसम्बर को मतदान है। मतों की गणना 11 दिसम्बर को होगी। राजस्थान की कुल 200 सीटों पर 2,294 प्रत्याशी चुनावी समर में ताल ठोक रहे हैं। प्रदेश के 4.7 करोड़ से अधिक मतदाता सात दिसम्बर को इन सबके राजनीतिक भविष्य का फैसला करेंगे।
करीब 45 मिनट के संबोधन में मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस के लोग किसानों के नाम पर इतना रोना रो रहे हैं, लेकिन आपको जानकारी है स्वामीनाथन कमीशन ने 10 साल पहले इन नामदार की सरकार को रिपोर्ट दिया था और कहा था कि अगर किसानों को उनकी लागत का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य मिलेगा तो किसानों की जिंदगी में सुधार होगा। दस साल पहले आयी इस रिपोर्ट को ये घड़ियाली आंसू बहाने वाले लोग आलमारी में रख दिये थे। उसे देखने की इन्हें फुर्सत नहीं मिली। जब मोदी आया तो उसे ढूढ़ निकाला और किसानों की उपज की लागत को डेढ़ गुना देना शुरू कर दिया।’
कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए मोदी ने कहा कि यह काम दस साल पहले हो जाता तो किसानों को इतना कर्ज नहीं लेना पड़ता। एक किसान मां का बेटा जिसने जीवनभर गांधी जी के साथ रहकर हक की लड़ाई लड़ी थी यदि वह किसान बेटा सरदार वल्लभभाई पटेल देश का पहला प्रधानमंत्री हुआ होता तो मेरे भारत का किसान आज सबसे सुखी होता, क्योंकि उसको किसानों की मुसीबतों के बारे में पता था। ये नामदार जो सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए हैं, इनको क्या पता कि किसान क्या होता है। लेकिन उनके नाम पर घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं।

महात्मा ज्योतिबा फुले को याद करते हुए मोदी ने कहा कि आज महात्मा फुले की 128वीं पुण्यतिथि है। उन्होंने कहा, “मैं सबसे पहले उस महापुरुष को आदरपूर्वक नमन करता हूं जिसने दलित, पीड़ित व शोषितों के कल्याण के लिए अपना पूरा जीवन खपा दिया था।”
मोदी ने कहा कि जब तक समाज में दबे-कुचले लोगों को आत्मसम्मान से जीने का अवसर नहीं देंगे, प्रकाश करने के लिए सुविधा नहीं उपलब्ध कराएंगे तक तक हमारा यह समाज पूर्ण रूप से विकास नहीं कर सकता। भाजपा की सरकार चाहे दिल्ली में हो अथवा राजस्थान में, हम लोगों का एक ही मंत्र रहता है सबका साथ सबका विकास। यह मंत्र ज्योतिबा फुले और बाबा साहब आंबेडकर की प्रेरणा से मिला हुआ है। हमारा सपना है सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानियों का कल्याण हो फिर एक बार हमारी भारत माता जगद्गुरु के स्थान पर विराजित हों। इसी सपने को साकार करने के लिए संतों और वीरों की भूमि से आप सबका आशीर्वाद मांगने आया हूं।
राजस्थान की प्रमुख समस्याओं की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर इस राज्य को पानी मिल जाए तो यहां के मेहनती लोग मिट्टी से सोना पैदा कर सकते हैं। मोदी ने इस दौरान सभा में उपस्थित लोगों से सवाल भी किया कि आप मुझे बताइए कि आजादी के बाद से कांग्रेस की सरकारों ने आपके खेतों में पानी पहुंचाने का काम किया होता तो क्या आपको मुसीबत झेलनी पड़ती। उन्होंने कहा, ‘मैं वसुंधरा सरकार को बधाई देता हूं उन्होंने राजस्थान में डेढ़ लाख हेक्टेयर भूमि में सिंचाई के लिए पानी पहुंचाने का प्रयास किया है। हम इस काम को कैसे भूल सकते हैं।’

केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए मोदी ने कहा कि देश में अब तक एक करोड़ 25 लाख लोगों को रहने के लिए पक्का मकान मिला। राजस्थान में भी सात लाख लोगों को पक्का मकान दिया गया। भाजपा सरकार जो मकान लोगों को उपलब्ध करा रही है, उसमें सिर्फ चहारदीवारी नहीं बल्कि उस पक्के मकान में नल व उस नल में जल, गैस का कनेक्शन, बिजली और शौचालय सब कुछ उपलब्ध करवाया है। मोदी ने कहा, “आज मैं ज्योतिबा फुले की पुण्यतिथि बोल रहा हूं, संतों के दर्द से बोल रहा हूं। वर्ष 2022 तक एक भी परिवार बाकी नहीं रहेगा। देश के हर परिवार को तब तक पक्का मकान मिल जाएगा।”
मोदी ने इस दौरान सभी को मतदान का ताकत भी समझायी। उन्होंने कहा कि आपका वोट केवल एक विधायक ही नहीं चुनेगा बल्कि उससे राजस्थान का विकास होगा और गरीबों को भला होगा। इसलिए अपना वोट कामदार उम्मीदवार और कामदार पार्टी को ही दीजिएगा

About khabarworld

Check Also

पीवी सिंधु का विश्व टूर में जीत से आगाज

Share this on WhatsAppनई दिल्ली/ग्वांग्झू, 12 दिसम्बर (हि.स.)। ओलिंपिक खेल में सिल्वर मेडल विजेता भारत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *